Breaking News

महिलाओं के लिए डर की नहीं होगी कोई बात, जब मोबाइल में होगा इन एप्स का साथ


बस या टैक्सी में सफर करते वक्त, सड़क के किनारे या अपने ही घर में या घर के आसपास कभी भी और कहीं भी महिलाओं की सुरक्षा को लेकर अंदेशा हो सकता है। 

इसलिए आज के समय में महिलाओं को अपनी रक्षा खुद करना आना चाहिए। आज के टेक्नोलाॅजी के युग में महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई खास गैजेट्स उपलब्ध हैं जिन्हें महिलाएं अपने हैंडबैग में आसानी से कैरी कर सकती है और जरूरत पड़ने पर सेल्फ डिफेंस के लिए उनका इस्तेमाल कर सकती हैं।

इतना ही नहीं सेफ्टी के लिए मोबाइल एप्स डेवलप किए गए हैं, जो काफी यूजफुल हो सकते हैं।

आइए जानते हैं वे टूल्स और गैजेट्स जो आपकी किसी अनहोनी से रक्षा कर सकते है:

1- पेन व काॅम्ब नाइफ:
सेल्फ डिफेंस के लिए शानदार गैजेट है पेन नाइफ व काॅम्ब नाइफ। ये दिखने में एकदम सामान्य पेन या काॅम्ब जैसे दिखते हैं लेकिन खोलने पर ये चाकू बन जाता है।

2- कैट कीचेन:
एक सामान्य कीचेन की तरह दिखने वाला ये गैजट बड़ा काम का हो सकता है और खुद की सेफ्टी के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। इस कैट कीचेन को मिडल और इंडेक्स फिंगर में फंसाना होगा और उसके साथ ही आप हमला करने वाले पर वार कर सकते हैं।

3- परफ्यूम पेपर स्प्रे:
यह स्प्रे देखकर लगता है कि यह कोई परफ्यूम की बोतल है। सामने वाले पर स्प्रे करने पर थोड़ी देर के लिए दिखाई देना बंद हो जाता है और आप बच के निकल सकती हैं।

4- पेपर फोम:
यह पेपर स्प्रे की तरह ही होता है लेकिन थोड़ा महंगा है। पेपर स्प्रे को यूज करने पर वह हवा के साथ आपकी भी आंखों में जा सकता है। लेकिन पेपर फोम के साथ ऐसा नहीं होता है। इसलिए पेपर फोम ज्यादा सेफ है।

5- सेलफोन स्टन गन:
यह गैजेट सेलफोन की तरह दिखता है लेकिन काफी तेज करंट देता है।

6- पर्सनल अलार्म:
अगर आप ऐसी स्थिति में हो कि आप चिल्ला भी नहीं सकते तो पर्सनल अलार्म गैजेट का बटन दबाने पर ये काफी तेज आवाज करता है। इसे सुनकर कोई आपकी मदद करने आ सकता हैं।

ये फ्री एप्स हो सकते हैं बड़े काम के:

1- Nirbhaya: Be Fearless:
इस एप से आप सेट किए गए कॉन्टैक्ट पर इमरजेंसी मैसेज और कॉल कर सकते हैं। इस एप पर यूजर सेफ व अनसेफ एरिया का व्यू, मैप पर देख सकते हैं। पावर बटन का यूज कर एप में सेव ग्रुप को मैसेज कर सकते हैं।

2- bsafe:
इस एप से आप अपनी लोकेशन शेयर कर सकते हैं। साथ ही GPS ट्रेस की सुविधा भी है। टाइमर मोड का उपयोग कर ऑटोमैटिक अलार्म सेट कर सकते हैं। आई एम हियर फीचर में आप कहां हैं, यह सिलेक्टेड लोगों को बता सकते हैं। इस एप से आप फेक कॉल भी अपने फोन पर कर सकते हैं। अगर आप मुसीबत में फंस जाती हैं, तो गार्जियन बटन को हिट करते ही आपके दोस्तों और फैमिली तक नोटिफिकेशन पहुंच जाएगा। आप उन्हें अपनी लोकेशन के साथ ही वीडियो भी सेंड कर सकती हैं।

3- Safetipin:
यह एक पर्सनल सेफ्टी एप है, जिसमें जीपीएस ट्रेकिंग, इमरजेंसी, इम्पोर्टेंट कॉन्टैक्ट नंबर, सेफ लोकेशन के लिए डायरेक्शन जैसे फीचर्स हैं। एप में मौजूद पिन सेफ व अनसेफ एरिया को डिस्प्ले करती है। कहीं जाने से पहले एरिया सेफ है या नहीं, सेफ्टी स्कोर से चैक कर सकते हैं। साथ ही आप अपना एक्सपीरियंस शेयर कर दूसरों को भी आगाह कर सकती हैं। इसमें एक डायरेक्टरी भी दी गई है, जिसमें इमरजेंसी हेल्प नंबर है।

4- iGoSafely:
यह एप एक पर्सनल सिक्योरिटी अलार्म की तरह काम करता है। अगर आप किसी इमरजेंसी में फंस गई हैं, तो आपको अपना फोन जोर से हिलाना है या अपने हैडफोन को अनप्लग करना है। ऐसा करते ही आपके इमरजेंसी कॉन्टैक्ट्स तक ईमेल या मैसेज पहुंच जाएगा। जब तक आप सीक्रेट कोड नहीं डालती, हर 60 सेकंड में उन तक अपडेट पहुंचती रहेगी। इसमें जीपीएस पोजिशन, स्ट्रीट एड्रेस और 30 सेकंड की ऑडियो रिकॉर्डिंग भी शामिल है।